पति- सारी रात गायब रहने के बाद सुबह जब घर पहुंचा ,
पत्नी ने गुस्से से कहा- अब सुबह के सात बजे किसलिए आये हो ?
पति - नाश्ता करने के लिए

पत्नी- तुम सारी दुनिया ढूंढो,
तो भी मुझ जैसी दूसरी नहीं मिलेगी.
पति - तुम क्या समझती हो? मैं दूसरी भी तुम्हारी जैसी ढूंढूगा ..!    हद हो गयी..

घोंचू (अपने दोस्त पोंचू से)- कई लोग एक से ज्यादा बीवी रख‍ते हैं, क्या तुम इसका असर जानते हो?
पोंचू- हां, कई बीवियां रखने में एक फायदा है। वे अपने पति से लड़ने की बजाय आपस में ही लड़ती रहती हैं।

Rajnikant Jokes In Hindi 2016

ज्‍यादा चौधरी मत बन चुहिया पेड़ पर चढ़ी तो बन्दर ने पूछा ऊपर क्यों आयी?
चुहिया- सेब खाने।
बन्दर- ये तो आम का पेड़ है।
चुहिया- तू ज्यादा चौधरी मत बन, सेब साथ लायी हूं।

 एक दोस्त (दूसरे से) - मतदान करने के लिए उम्र 18 साल, और शादी के लिए 21 साल... ऐसा क्यों?
दूसरा दोस्त - क्योंकि, सरकार भी जानती है कि बीवी संभालना, वो मुल्क संभालने से भी ज्यादा मुश्किल है...!

रजनीकांत का जन्म 30 फरवरी को हुआ।
उसके बाद से फरवरी ने तय किया कि यह दिन किसी
और का जन्मदिन नहीं होगा।

एक बार एक डाकू संता के घर में घूस आया।
डाकू संता से: जल्‍दी बता सोना कहां है।
संता: मुझे क्‍या पता।
डाकू: तो किसे पता होगा।
संता: चल ठीक है, लड़ाई मत कर पूरा घर खाली है, जहां मर्जी सो जा।

भिखारीः हैलो ताज होट, 1 पिज्जा, एक बिरयानी और रसमलाई भेज दो।
ताजः किसके नाम पर भेजना है।
भिखारीः भगवान के नाम पर।

 बेरोजगार- "मुझे सब मंजूर है, मगर मुझे सेलेरी एक लाख, एक फ्लेट और एक ड्राइवर के साथ कार चाहिये"
मालिक- "हम आपको दो लाख रुपये, दो फ्लेट और दो कारें देंगे"
बेरोजगार- ".....क्यूँ मज़ाक करते हैं?" मालिक- "शुरुआत तो आपने ही की थी"

बंता: इतना उदास क्यों हो?
संता: पत्नी से झगडा हुआ!
वो बोली 30 दिन तक बात नहीं करुँगी।
बंता: तुम्हें तो खुश होना चाहिये।
संता: आज आखिरी दिन है।

एक शराबी शराब पीते पीते मर रहा था।
मरते मरते वह कह रहा था- शराब तो ब्रांडेड ही पीता था,
लेकिन ये लीवर लोकल निकला।

संता एक बार जंगल में घूम रहा था।
अचानक उसे पेड़ पर एक सांप लटका दिखा।
संता ने सांप से बोला: ओए ऐसे लटकने से हाइट नहीं बढ़ेगी, मम्मी से बोल बोर्नवीटा पिलाए।

 प्रश्न: रजनीकांत की फिल्म रोबोट का उद्देश्य क्या था?
उत्तर: यही कि लड़की केवल इंसान का ही नहीं बल्कि मशीन का भी दिमाग खराब कर सकती है

संता लाइब्रेरी में गया और तीन घंटे
एक किताब को पढ़ने के बाद बोला: बहुत बोरिंग किताब थी, इतने सारे कैरेक्टर और कहानी कुछ भी नहीं।
लाइब्रेरियन: संता जी, वो टेलीफोन डायरी है।

रजनीकांत केबीसी में आए।
अभिताभ बच्चन ने कम्प्यूटर से कहा- कम्प्यूटर जी, हमारे साथ आज खेल रहे हैं रजनीकांत।
आज का पहला प्रश्न पूछिए।
कम्प्यूटर- मैं लाइफ लाइन इस्तेमाल करना चाहता हूं।

चमन लालः मेरी पत्नी कल मर गयी,
मैंने बहुत कोशिश की की मेरी आंख में आंसू आ जाये पर नही आये।
मुझे क्या करना चाहिए?
मणिरामः कोई बात नही बस कल्पना कर लेते की वो वापस आ गयी है।

अंग्रेजी से मुझे बेहद प्यार है
थोड़ी महंगी है "
लेकिन चढ़ती है तो मज़ा आ जाता है

संता अपनी गर्लफ्रैंड रानी के साथ पार्क में बैठा था।
रानी: सूनो तुम मुझे हमारी इंगेजमेंट पर रिंग दोगे ना।
संता: हां क्‍यों नही बस अपना मोबाइल नंबर देना मत भूलना।

पति - मैं जासूसी उपन्यास लिख रहा हूं |
पत्नी - प्रकाशित कौन करेगा |
पति - यह तो जासूस ही पता लगाएगा |

 पति (पत्नी से) – अगर तुम्हें खाना बनाना आता तो मैं आया की छुट्‍टी कर देता।
पत्नी, पति से – अगर तुम्हें प्यार करना आता तो मैं ड्राइवर की छुट्‍टी कर देती।

चम्पू (अपने दोस्त से) - ऐसी कौन-सी चीज है, जो तुम्हारी
नजरों के सामने होते हुए भी तुम्हारी पहुंच से दूर है?
दोस्त ने लंबी सांस खींचकर कहा- पड़ोसन।

चिंटूः हमारे यहां एक ऐसी चीज है की हम दिवार की उस तरफ का भी देख सकते हैं।
पिंटूः सचमुच ... ऐसी क्या चीज है तुम्हारे यहां ?
चिंटूः खिड़की !

घोंचू (अपने दोस्त पोंचू से)- कई लोग एक से ज्यादा बीवी रख‍ते हैं, क्या तुम इसका असर जानते हो?
पोंचू- हां, कई बीवियां रखने में एक फायदा है। वे अपने पति से लड़ने की बजाय आपस में ही लड़ती रहती हैं।

बंटी: पापा पति और पत्नी में क्या अंतर है?
संता : पति परिवार का सिर है और पत्नी परिवार की गर्दन,
जो सिर को किसी भी ओर घुमा सकती है।

रजनीकांत केबीसी में आए।
अभिताभ बच्चन ने कम्प्यूटर से कहा- कम्प्यूटर जी, हमारे साथ आज खेल रहे हैं रजनीकांत।
आज का पहला प्रश्न पूछिए।
कम्प्यूटर- मैं लाइफ लाइन इस्तेमाल करना चाहता हूं।

पत्नी : सुनो जी, जब आपने पहली बार घुघंट उठाया
था तो आपको कैसा लगा था ???.
पति : मां कसम, मैं तो मर ही जाता अगर टीवी पर
“आहट” देखने की आदत नहीं होती तो..

एक भिखारी ने घर में आवाज लगाईः बाबू जी रोटी मिल जाएगी ?
अंदर से आवाज आईः मालकिन घर में नहीं है।
भिखारीः बाबू जी मुझे मालकिन नहीं रोटी चाहिए।

संता: यार ये कानून अंधा कैसे हो गया है?
बंता: यार यह सब रजनीकांत की वजह से।
दरअसल हुआ यूं कि एक बार एक जज ने रजनीकांत को क्राइम करते हुए देख लिया उस दिन से कानून अंधा हो गया है।रजनीकांत का कैलेंडर 31 मार्च के बाद सीधे 2 अप्रैल को दर्शाता है, कोई उन्हें अप्रैल फ़ूल नहीं बना सकता।

वो बोली इतने फोन मत करो नंबर ब्लैक लिस्ट पर ङाल दूँगी
मैं बोला जितने तेरी माँ ‪दहेज में
बर्तन नही लायी होगीं उससे
ज्यादा तो मेरे पास ‪‎सिम है

About us        Privacy Policy       Sitemap     Terms and Conditions         Contact us  

Copyright © 2015 downloadnewapp. All Right Reserved. All Other Trademarks, Logos And Copyrights Are The Property Of Their Respective Owners.